मातमोर शिवपुर जैन मंदिर में डकैती करने वाले आरोपी पकड़ाए पुलिस को मिली बड़ी सफलता

0
78

देवास जिले के
थाना बागली क्षेत्र अंतर्गत दिनांक 27 , 28 अगस्त की दरमियानी रात मातमौर शिवपुर जैन मन्दिर में अज्ञात चोरों द्वारा चौकीदार से मारपीट कर मन्दिर में भगवान की चाँदी की अंगी तथा दान पेटी तोडकर नगदी रुपया डकैती डालकर ले गये थे । जिस पर अपराध क्र 544 / 19 धारा 395 भादवि का कायम किया गया । अज्ञात डकेतों की पतारशी हेतु पुलिस महानिरीक्षक महोदय उज्जेन राकेश गुप्ता . उप पुलिस महानिरीक्षक महोदय अनिल शर्मा , द्वारा मुझ पुलिस अधीक्षक देवास चन्द्रशेखर सोलंकी को घटना की जानकारी निकालने हेतु निर्देशित किया गया । 
कुछ समय पूर्व थाना उदयनगर में जीवन दांगी के घर में अज्ञात चोर द्वारा सोने चाँदी के जेवरों व नगदी रूपयों की चोरी कर ली गई थी ।
 इसी प्रकार थाना हाटपिपल्या में दिलीप सोनी के यहाँ भी अज्ञात चोरों द्वारा सोना चाँदी के जेवरों की चोरी की गई थी । 
सतवास में भी बैंक मे चोरी का प्रयास किया गया था । क्षेत्र में हो रही घटना में आदिवासी हुलिये के लोगों के होने की जानकारी मिली थी साथ ही सीसीटीवी फुटेज भी प्राप्त हुये थे । प्राप्त जानकारी के आधार पर मेरे द्वारा संदिग्ध लोगों पर निगरानी रखी जाने एवं इस तरह की घटना करने वालों की पतारसी हेतु कार्य योजना तैयार की जाकर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कन्नौद डॉ नीरज चौरसिया के नेतृत्व में टीम गठित की गई जिसमें अनुविभागीय अधिकारी बागली एस . एल . सिसोदिया , उपपुलिस अधीक्षक मुख्यालय किरण शर्मा , थाना प्रभारी सतवास हरीश जैजुरकर, थाना प्रभारी हाटपिपल्या मुकेश ईजारदार , थाना प्रभारी उदयनगर पंकज द्विवेदी , थाना प्रभारी बरोठा ओ . पी . अहीर , थाना प्रभारी बागली अमित सोनी , उनि पुजा सोलंकी व क्राईमटीम के प्रआर मनोज पटेल , देवेन्द्र , धर्मराज अन्य अधिकारी / कर्मचारियों को थाना क्षेत्र व घटना स्थल से प्राप्त सूत्रों के आधार पर क्षेत्र के आसपास रहने वाले संदिग्धों , काम करने वाले मजदूरों ,बाहरी लोगों की जानकारी एकत्र करने हेत निर्देशित किया गया । तकनीकी सहयोग हेतू थाना प्रभारी सुसनेर जिला आगर योगेन्द्र सिंह सिसोदिया , साईबर सेल के आर . शिव सेंगर द सचिन की टीम को पृथक से कार्य पर लगाया गया । मामले की गंभीरता को देखते हुए सुराग देने वाले को 20 हजार रूपये पुलिस प्रशासन व्दारा 31 हजार रूपये मातमोर जैन ट्रस्ट व्दारा नगर इनाम भी घोषित किया गया ।
               अनुसंधान कि एक टीम धार , झाबुआ क्षेत्र में मामूर की गई जिसने मुखबिरों की सूचना के आधार पर मिले हए फुटेज के हुलिये के लोगों की जानकारी एकत्र की तथा वहीं से एक व्यक्ति को संदिग्ध बतौर चिन्हित किया जिसके संबंध में विस्तृत तकनीकी विश्लेषण व तस्दीक के आधार पर ज्ञात हुआ कि बाघ एवं टाण्डा क्षेत्र के भील इस तरह की लगातार वारदात कर रहे है । पुलिसकर्मियों के दल ने लम्बे समय तक धार क्षेत्र में कैप कर जानकारियां एकत्र की तथा आने जाने के मूवमेन्ट को चिन्हित किया और इसी आधार पर बागली क्षेत्र में स्थानीय निवासी  भील को संदेह के आधार पर पूछताछ हेतू उठाया और उससे कढाई से पुछताछ करने पर उसके व्दारा जुर्म स्वीकार करने पर गिरफ्तार कर रिमाण्ड पर लिया गया जिसने बताया कि बाघ थाना क्षेत्र के अंतर्गत डेहरी चौकी के बरखेडा गाँव में उसके रिश्ते का मामा जुवार सिंह पिता केकडिया अनारे तथा काटी के परम पिता नरवर भील की गैंग इस तरह की वारदात करके गई है।  स्थानीय स्तर पर भी ज्ञात हआ कि जवार और परम की गैंग दारु मुगा , बकरा पार्टी कर पैसा खर्च कर रही है विष्णु की बतायी जानकारी के आधार पर घटना में इनके साथी दयासिंह पिता मंगू निवासी काटी , मुकेश वसूनिया पिता बिशनसिंह निवासी रणजीतगढ जोबट , जयकिशन पिता धडक सिंह निवासी पिपरी विष्णु पिता जुवान सिंह भील निवासी बोरी थाना बागली घटना में शामिल है । पुलिस द्वारा पकडे गये आरोपियों की निशादेही पर सोना चांदी के जेवर , सामान जप्त किये गये जिनकी कुल कीमत 10 लाख रुपये से अधिक है जिसमें अब तक गिरोह के कुल 04 आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त हुई है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here