देवास मैं कृषि विज्ञान मेले का आयोजन

0
97

देवास में कृषि विज्ञान मेले का आयोजन

किसानों के हाथों को मजबूत करने के लिए कृत संकल्पित है सरकार–मंत्री श्री सज्जनसिंह वर्मा

अधिक लाभ लेने के लिए किसान फूड-प्रोसेसिंग को भी अपनाएं—-मंत्री श्री वर्मा

 देवास, 

जल शक्ति अभियान अन्तर्गत विभिन्न विभागों की जानकारी एक ही स्थान पर देने के उद्देश्य से किसान संगोष्ठी/ कृषि विज्ञान मेले का आयोजन बुधवार को मल्हार स्मृति मंदिर देवास में प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री श्री सज्जनसिंह वर्मा के मुख्य आतिथ्य में किया गया। इस अवसर पर कलेक्टर डॉ. श्रीकान्त पाण्डेय, पुलिस अधीक्षक चंद्रशेखर सोलंकी, सीईओ जिला पंचायत शीतला पटले, उपसंचालक कृषि नीलम सिंह चौहान, परियोजना संचालक आत्मा आलोक मीणा, श्री मनोज राजानी,‍ श्री गोवर्धन गेहलोद, श्री सलीम मामू, श्री शौकत हुसैन, श्री राजेंद्र सिंह बैस, श्री चैनसिंह, श्री सुधीर शर्मा, श्री जसवंत सिंह राजपूत, श्री विक्रम मुकाती, श्री मुकेश चौधरी, श्री जाकिर उल्ला एवं प्रतिनिधिगण मंचासीन थे।
कृषि विज्ञान मेले को संबोधित करते हुए मंत्री श्री सज्जनसिंह वर्मा ने कहा कि किसान दिन-रात खेतों में काम करता है। किसान हमारा अन्नदाता है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ के नेतृत्व में प्रदेश की नई सरकार ने किसानों का दर्द समझा और किसानों का कर्जा माफ करने का निर्णय लिया तथा किसानों के 2 लाख रुपए तक के कर्ज माफ किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार किसानों के हाथों को मजबूत करने के लिए कृत संकल्पित है। किसान मजबूत होगा तो प्रदेश व देश मजबूत होगा। मंत्री श्री वर्मा ने कहा कि किसान फूड प्रोसेसिंग जैसी तकनीकों को भी अपनाएं। इससे उन्हें अधिक लाभ होगा।
प्रदेश सरकार किसानों की मदद के लिए हमेशा तत्पर हैं
मंत्री श्री वर्मा ने कहा कि प्रदेश की नई सरकार किसान हितैषी सरकार है। किसानों को सक्षम एवं मजबूत बनाने के लिए हर संभव प्रयास करेगी। किसानों की सभी प्रकार की मदद के लिए प्रदेश सरकार हमेशा तत्पर हैं। आप जब चाहें हमसे सम्पर्क कर सकते हैं।
किसान का बेटा हल भी चलाता है और सीमा पर बंदूक भी
मंत्री श्री वर्मा ने जय जवान-जय किसान का नारा लगाते हुए कहा कि किसान का ही बेटा खेतों में हल चलाता है और सेना में भर्ती होकर सीमा की सुरक्षा के लिए बंदूक भी चलाता है। इसलिए किसानों का दुख दर्द मिटाने के लिए हम सभी संकल्पित हैं। इसके लिए शासन द्वारा बहुत सी योजनाएं संचालित की जा रही है।
मंत्री श्री सज्जनसिंह वर्मा ने कहा कि मेले में कृषि वैज्ञानिक व कृषि विभाग के अधिकारी किसानों को खेती की उन्नत तकनीकों व विधियों की जानकारी दे रहे हैं ताकि आप लोग खेती में उन्नत तकनीकों को अपनाकर अधिक पैदावार ले सके। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी की सोच है कि किसानों के हित में लाभकारी योजनाएं बनाई व क्रियाविंत की जाए ताकि किसान समृद्ध हों। उन्होंने कहा कि किसान सुखी व समृद्ध होगा तो देश समृद्ध होगा।
कृषि विज्ञान मेले के प्रारंभ में कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक डॉ. केएस भार्गव ने कृषि विज्ञान के उद्देशयों से सभी को परिचित कराया। तकनीक सत्रों में कृषि वैज्ञानिकों एवं कृषि अधिकारियों ने कृषकों को खेती की उन्नत तकनीकों व विधियों, आधुनिक कृषि एवं उपकरणों, जैविक कृषि, फसलों की उन्नत किस्मों, फसलों में रोग एवं कीटों का नियंत्रण, जैविक नियंत्रण विधियां आदि के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। किसान मेले में बड़ी संख्या में स्थानीय किसानों के साथ राष्ट्रीय आजीविका परियोजना की दीदियों ने भी सहभागिता की। इसके अलावा समाजसेवी विजय सोनी ने पानी के संरक्षण बारे में विस्तार से जानकारी दी।
मेले में किसानों को जल संग्रहण संबंधी जानकारी कृषि की उन्नत तकनीकी जानकारी, उन्नत सिंचाई के साधन एवं खेती में लगने वाले कृषि आदान, उन्न्त बीज, उर्वरक, पौध संरक्षण औषधी एवं नवीनतम कृषि उपकरण, पशु चिकित्सा सेवाएं, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, मत्स्य विभाग एवं उद्यानिकी विभाग की योजनाओं की जानकारी दी गई। इस अवसर पर मेले स्थल पर शासकीय विभागों/ अन्य संस्थाओं द्वारा विकास प्रदर्शनी लगाई गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here