ब्रेकिंग-न्युज़:देवास विधानसभा 2018 के चुनावी नतीजों कीं उल्टी गिनती शुरू हों गई हे,,

0
108

बड़ी मुश्किल भरी रात है आज की…
देवास-विधानसभा 2018 के चुनावी नतीजो की उल्टी गिनती शुरू हो गई है। पल पल बीतता लम्हा एक नई राजनीतिक सफर की शुरुआत की ओर बढ़ रहा है। देवास जिले की पांच विधानसभाओं के कुल 52 उम्मीदवारों की किस्मत इस समय ईवीएम में कैद है और ईवीएम किसकी किस्मत को बुलन्दी पर ले जाएगी इसका फैसला होने में कुछ ही घण्टे शेष है।जिले में भाजपा ने लगभग अपनी सारी ताकत झोंक दी है है यदि ये भी कहा जाए तो कोई अतिशयोक्ति नही होगी कि भाजपा ने अपनी ओर से कोई कसर इस बार बाकी नही रखी है। क्योकि इस बार के चुनाव भाजपा की प्रतिष्ठा बन चुके है। देवास, सोनकच्छ ओर हाटपीपल्या विधानसभा सीटों ने भाजपा की नींद उड़ा रखी है। क्योंकि देवास से गायत्री राजे पँवार कांग्रेस के जय सिंह ठाकुर के विरुद्ध मैदान में है । ये सीट भाजपा का अभेद गढ़ मानी जाती है। भाजपा के साथ ही राजपरिवार की प्रतिष्ठा भी कही न कही यहां दाँव पर लगी हुई है।

हाटपीपल्या विधानसभा से पूर्व मुख्यमंत्री कैलाश जोशी के पुत्र और जिले से एकमात्र मंत्री दीपक जोशी कांग्रेस के एकदम नए चेहरे मनोज चौधरी से दो दो हाथ कर रहे है।यह काफी कड़ा मुकाबला है। यहाँ पर भी भाजपा की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है। सोनकच्छ विधानसभा में भाजपा के राजेन्द्र वर्मा और सज्जन वर्मा के बीच काफी कड़ा संघर्ष है। यहां अभी कोई आकलन लगाना बड़ा मुश्किल होगा।
बागली विधानसभा की बात करे तो भाजपा के पहाड़ सिंह कन्नौजे एव कांग्रेस के कमल वास्केल के बीच सीधा मुकाबला है।
खातेगांव विधानसभा भाजपा की सबसे ज्यादा सुरक्षित सीट मानी जा रही है। लोगो में अपनी गहरी पैठ रखने वाले बीजेपी के आशीष शर्मा और कांग्रेस के ओम पटेल से टक्कर ले रहे है।

आज की रात उम्मीदवारों के लिए कत्ल की रात के समान है।यह परिणाम कई उम्मीदवारों के राजनीतिक भाग्य का फैसला केरेगे।परिणाम जिनके अनुकूल नही होगा वो राजनीतिक वनवास में चला जायेगा। अब ये तो कुछ ही घण्टो बाद ईवीएम ही बता पाएगी की इस बार किसको मिलेगा राज और कोन जाएगा वनवास…
बहराल हर कोई अपनी अपनी जीत को लेकर आशान्वित है। लेकिन कल क्या होगा ये तो ईवीएम ही जानती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here